behavior="scroll" height="30">हिन्दी-हरियाणवी हास्व्यंग्य कवि सम्मेलन संयोजक एवं हिन्दी-हरियाणवी हास्व्यंग्य कवि योगेन्द्र मौदगिल का हरियाणवी धमाल, हरियाणवी कविताएं, हास्य व्यंग्य को समर्पित प्रयास ( संपर्कः o9466202099 / 09896202929 )

गुरुवार, 23 अक्तूबर 2008

हरियाणे का ताऊ............

माइ डीयर भाइयों अर डीयरैस्ट भाभियों
वैसे तो थम नै, सब नै बेरा ही से अक हरियाणा का माणस हाजिर जवाब अर मूंह पै कहणिया होवै सै..
कई बार तो इसी बात कहदै अक सामणे वाला तो जलभुन कै रहजै
अर ताऊ अपणी बात कहकै आग्गै चाल दै..
एक बै की बात.......

भूतनाथ घूमता होया हरियाणा म्हं आग्या
एंटरी करते ही एक ढाब्बै पै रुक्या कयैंकि उसनै सुण राखया था
देसां मैं देस हरियाणा..
जित दूध दही का खाणा..
तो ढाबे आले तै बोल्या, रै ताऊ..
बहोत जोर की भूख लाग री तेरे धौरै गरम-गरम के सै..?
ताऊ बोल्या रै छोरे,
गरम-गरम तो तवा सै, यहीं खावेगा अक पैक करावेगा...
भूतनाथ की टाल्ली खड़कगी

पूछण लाग्या, अच्छा ताऊ न्यू बता दे टैम के होया..?
ताऊ बोल्या रै छोरे
टैम तो लट़ठ बजाण का हो रह्या सै
भूतनाथ की टाल्ली खड़कगी

फेर पूछण लाग्या अच्छा ताऊ न्यू बता दे समय के होया
ताऊ बोल्या रै छोरे
समय तो बहोत खराब आ रह्या सै
भूतनाथ की टाल्ली खड़कगी्

फेर पूछण लाग्या अच्छा ताऊ न्यू पूछ रह्या अक घड़ी मैं के बजा
ताऊ बोल्या रै छोरे
घड़ी म्हं बजै चे दो घड़ी म्हं पर बजेगा तो लट्ठ

भूतनाथ की टाल्ली खड़कगी समझग्या यू हरियाणे का ताऊ सै सीधा जवाब कोनी दे
यहां तै तो फूट लेने मैं ई भलाई सै

इतने मैं वहां हरियाणा रोडवेज की बस आकै रुकगी
भूतनाथ नै कंडक्टर तै पूच्छया
अक रै भाई जगह है क्या
कंडक्टर हरियाणे का बोल्या क्यूं प्लाट काटेगा के
भूतनाथ की टाल्ली खड़कगी

भूतनाथ बोल्या रै अच्छा ताऊ न्यू तो बतादे अक या बस कहां जा री सै
कंडक्टर हरियाणे का बोल्या लंदन जा री सै बोल चाल्लेगा के
भूतनाथ की टाल्ली खड़कगी

बस के आगे जा कै उसनै बोर्ड देख्या उस पै दिल्ली लिख राख्या था
फेर बी अपनी तसल्ली करण के लिये
भूतनाथ पूछण लग्या या बस दिल्ली जावेगी के
भाईसाब कंडक्टर हरियाणे का बोल्या चंडीगढ़ जावेगी
भूतनाथ बोल्या पर बाहर बोर्ड पै तो दिल्ली लिख राख्या
भाईसाब कंडक्टर हरियाणे का बोल्या रै झकोई तू बोर्ड पै बैठ के जागा या बस मैं बेठ कै
भूतनाथ की टाल्ली खड़कगी अर वापस हो लिया
--योगेन्द्र मौदगिल

11 टिप्‍पणियां:

  1. भाई बहुत जोरदार ! भूतनाथ कदे नाराज होकै कुटन लाग गया तै के करांगे ? तिवारीसाहब को पूछते है ! :)
    दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं !

    उत्तर देंहटाएं
  2. ताऊ बोल्या रै छोरे
    घ़ी म्हं बजै चे दो घड़ी म्हं पर बजेगा तो लट्ठ

    जय हो हरयाना नरेशों की ! दीवाली की हार्दिक बधाई !

    उत्तर देंहटाएं
  3. क्या बात है तभी तो मै हरियाणा क्या भारत छोड के भाग आया,लेकइन यह ताऊ यहां भी पीछे पीछे आ गया ओर साथ मे *तिवारी साहिब जी* ओर भुतनाथ को भी लगा लिया...ेक बार मुझे बहुत जोर से प्यास लगी थी, मेने ताऊ से पुछा ताऊ पानी है, ताऊ बोला डुब के मरना है क्या??
    धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  4. बुरे फंस गए बाबा भूतनाथ।
    आखिर आए क्या सोच कर थे। हरियाणा भले आदमियों के लिए है। पहले सिगनेचर की बोतल लाते। फिर एंट्री की परमीशन पर सिगनेचर करवाते। तब न ताऊ के प्रदेश से साक्षात्कार कर पाते।
    दीपावली आपको आपके परिवार को मंगलमय हो। २७ को पानीपत में कुछ घंटे बिताने का इरादा है। भेंट करता हुआ जाऊंगा।

    उत्तर देंहटाएं
  5. पूरी बात क्यों नहीं बताते? ताऊ ने तो भूतनाथ को दो-चार हाथ जड़ भी दिए थे। और उनकी यूनिटी डार्लिंग कई दिन उनके गाल का चुम्मा लेकर इलाज करती रही थीं।

    उत्तर देंहटाएं
  6. पंडित जी
    आपने बिल्कुल ठीक फरमाया
    पिटाई तो मेरी भी हुई
    अर बता नहीं सकता कहां-कहां की हुई
    युनिटी या कोई और मेरा बी इलाज इसी तरीके से करवादो भाई
    तभी पता लगेगा
    अक् ईबकै तो दीवाली सी मनगी

    उत्तर देंहटाएं
  7. परिवार व इष्ट मित्रो सहित आपको दीपावली की बधाई एवं हार्दिक शुभकामनाएं !
    पिछले समय जाने अनजाने आपको कोई कष्ट पहुंचाया हो तो उसके लिए क्षमा प्रार्थी हूँ !

    उत्तर देंहटाएं
  8. पहले तो मतिभ्रम हुआ ""मतिभ्रम मोर प्रकट मैं जाना "" कि मैं सुरेन्द्र शर्मा को पढ़ रहा हूँ या जेमिनी हरयाणवी को पढ़ रहा हूँ इस रूप का मुझे पता नहीं था ,मज़ा नहीं आनंद आगया

    उत्तर देंहटाएं
  9. दीपावली पर आप को और आप के परिवार के लिए
    हार्दिक शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  10. परिवार व इष्ट मित्रो सहित आपको aagle elction ki हार्दिक शुभकामनाएं !
    पिछले समय जाने अनजाने आपको कोई कष्ट पहुंचाया हो तो उसके लिए क्षमा प्रार्थी हूँ na hum t raat n liker jaange itli wanh foot path p beth jaange !

    उत्तर देंहटाएं

आप टिप्पणी अवश्य करें क्योंकि आपकी टिप्पणियां ही मेरी ऊर्जा हैं बहरहाल स्वागत और आभार भी